गरीबों और जरूरतमंदों का सरकार पर पहला हक: मुख्यमंत्री

Spread the love

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार गरीब व जरूरतमंदों कल्याणार्थ योजनाएं क्रियान्वित कर रही है। हमने पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति को योजनाओं का लाभ देने की शुरुआत की है, ताकि वे मुख्यधारा में आकर समाज का हिस्सा बन सकें। सरकार ने गरीब व जरूरतमंदों को समय पर सहायता देकर उनके जीवन को सरलयापन किया है। अब वे गर्व से कह रहे हैं कि वे भी समाज के अभिन्न अंग हैं और उनके अधिकारों को कोई दबंग नहीं छीन सकता है। मुख्यमंत्री आज अपने निवास संत कबीर कुटीर पर हिसार, सिरसा और फतेहाबाद जिलों के प्रबुद्ध नागरिकों के साथ बैठक कर रहे थे।
मनोहर लाल ने कहा कि प्रबुद्ध नागरिकों का समाज में एक अहम स्थान होता है। वे सरकार और जनता के बीच एक सेतु की भांति होते हैं, इसलिए उन्हें जनता को सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं से अवगत करवाना चाहिए, ताकि अधिक से अधिक पात्र लोग इनका लाभ उठा सकें। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने शासन संभालते ही सबसे पहला काम राजकाज में ई-गवर्नेंस लाने का किया, जिससे हर प्रक्रिया को ऑनलाइन किया। इससे सभी काम जल्दी होने लगे और पारदर्शिता भी आई, जिससे जनता का जीवन सुगम बना। पहले लोगों को छोटे-छोटे कामों के लिए सरकारी कार्यालयों के चक्कर काटने पड़ते थे और बिचौलियों का सहारा लेना पड़ता था, लेकिन हमारी सरकार ने इन सारी व्यवस्था में परिवर्तन लाते हुए ऑनलाइन सिस्टम लागू किया।
हरियाणा के हैप्पीनेस इंडेक्स को बढ़ाना सरकार का लक्ष्य
मनोहर लाल ने कहा कि हमारी सरकार ने प्रदेश को विकास की दृष्टि से आगे ले जाने का काम किया है। हमने हरियाणा एक- हरियाणवी एक के नारे पर चलते हुए हर विधानसभा क्षेत्र का एक समान विकास सुनिश्चित किया है। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग में उल्लेखनीय सुधार किया और प्रदेश में उद्योगों की गति को बढ़ाया है। अब राज्य सरकार की प्राथमिकता अपने नागरिकों के लिए एक उच्चतम ईज ऑफ लिविंग इंडेक्स पर फोकस करना है, ताकि प्रदेश के लोगों का जीवन आर्थिक रूप से मजबूत होने के साथ-साथ सुखमय हो सके।
मुख्यमंत्री ने प्रबुद्ध नागरिकों का आह्वान करते हुए कहा कि वे हरियाणा सरकार की योजनाओं व सेवाओं को जन-जन तक पहुंचाने हेतु लोगों को जागरूक करने में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *