100 roadways Buses Sent for Dwarka Expressway Program: द्वारका एक्सप्रेस-वे के कार्यक्रम में भेजी 100 रोडवेज बसें, यात्रियों सहित विद्यार्थी होंगे परेशान!

Spread the love

100 roadways Buses Sent for Dwarka Expressway Program: सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गुरुग्राम में द्वारका एक्सप्रेस-वे के कार्यक्रम में हिसार से 100 रोडवेज की बसें भेजी जाएंगी। कई रूटों पर यात्रियों और विद्यार्थियों को परेशानी उठानी पड़ सकती है। बता दें इसके लिए प्रदेश भर से 1300 बसें भेजी जानी है। इससे पहले भी पंजाब में पीएम और रेवाड़ी की रैली में करीब 1470 बसों को भेजा गया था।

70 बसें हिसार से व 30 बसें हांसी से भेजी गई

गुरुग्राम में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारका एक्सप्रेस-वे के कार्यक्रम के लिए हिसार से 100 रोडवेज बसें गुरुग्राम भेजी गई हैं। यह बसें लोकल रूटों से हटाकर भेजी गई हैं। इनमें से 70 बसें हिसार से व 30 बसें हांसी से भेजी गई है। इससे लोकल रूटों के यात्रियों को परेशानी उठानी पड़ेगी।

सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग

रोडवेज बसें भूना रूट, आदमपुर, सिवानी, राजगढ़, लाडवा, डाबड़ा सहित अन्य रूटों से हटाई गई है। इनमें ग्रामीण रूटों की रात्रि ठहराव की बसें शामिल है। रोडवेज संयुक्त कर्मचारी संघ ने राज्यभर के डिपो से बसों को गुरुग्राम भेजे जाने को सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग बताया है। संगठन के अनुसार बसों को एक ही जगह भेज दिए जाने से जहां विभागीय घाटा हो रहा है। वहीं विभिन्न रूटों के यात्री बसों के अभाव में परेशान हो रहे हैं।

क्षेत्रों के यात्री परेशान 100 roadways Buses Sent for Dwarka Expressway Program

हरियाणा रोडवेज संयुक्त कर्मचारी संघ के हिसार डिपो प्रधान अजय दुहन व संगठन सचिव दर्शन जांगड़ा ने कहा कि चाहे कोई सरकारी कार्यक्रम हो, रैली हो या कुछ और रोडवेज बसों को उस कार्यक्रम में भेज दिया जाता है। इससे विभागीय घाटा होगा और जो रूट प्रभावित होंगे, उन क्षेत्रों के यात्री परेशान होंगे।

बसों की कमी से परेशान

यह सब जानते हुए भी रोडवेज बसों को उनके मूल मार्गों से हटवाकर जबरदस्ती सरकारी कार्यक्रम वाले स्थानों को भेज दिया जाता है। इससे यात्री परेशान होते हैं, बसों की कमी हो जाने से विभिन्न शिक्षण संस्थानों को जाने वाले विद्यार्थी भी परेशान होते हैं। सरकार दावा तो बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का करती है लेकिन इस समय बेटियों की पढ़ाई प्रभावित होने की तरफ सरकार का कोई ध्यान नहीं है।

रेवाड़ी रैली में भी भेजी गई थीं प्रदेश से 1470 बसें

दुहन अजय दुहन व दर्शन जांगड़ा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारका एक्सप्रेस-वे के शुभारंभ के लिए आ रहे हैं। इसके लिए प्रदेश भर से 1300 बसें भेजी जानी है। इससे पूर्व भी पंजाब में पीएम की पंजाब और रेवाड़ी रैली में भी करीब 1470 बसों को भेजा गया था।

परिचालक व लिपिकों का पे ग्रेड बढ़ाने, 2016 के चालकों को पक्का करने, 1993 से 2002 तक लगे चालकों–परिचालकों को पक्का करने, ग्रुप डी के कर्मियों को कामन कैडर से बाहर करने व अर्जित अवकाश कटौती को लेकर रोडवेज सांझा मोर्चा की परिवहन विभाग के उच्च अधिकारियों व परिवहन मंत्री के साथ पांच दौर की वार्ता हो चुकी है।

READ ALSO: Pradhan Mantri Suryoday Yojana: आप भी सोलर रूफटॉप अपने घर पर लगाना चाहते हैं तो जाने कैसे करें प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना के लिए आवेदन

READ ALSO: Mahashivratri 2024: महाशिवरात्रि कब है? जानें तारीख और पूजा का शुभ मुहूर्त

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *