HBSE issued admit card for HTET exam एचबीएसई ने एचटेट परीक्षा के लिए जारी किए गए प्रवेश पत्र-उपायुक्त

Spread the love
सोनीपत, 26 नवंबर। उपायुक्त डॉ० मनोज कुमार ने बताया कि हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के द्वारा हरियाणा अध्यापक पात्रता परीक्षा-2023 (एचटेट) लेवल-1, 2 व 3 का आयोजन शनिवार 2 दिसंबर व रविवार 3 दिसंबर 2023 को करवाया जा रहा है। इस परीक्षा के लिए पात्र अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र (एडमिट कार्ड) बोर्ड की अधिकारिक वेबसाइट  www.bseh.org.in     पर उपलब्ध करा दिए गए हैं। होंगे।
उपायुक्त ने बताया कि सभी अभ्यर्थी प्रवेश पत्र (एडमिट कार्ड) पर दर्शाये गए महत्वपूर्ण नोट/निर्देशों को ध्यान से पढक़र/समझकर उनका पालन करना सुनिश्चित करें। उन्होंने बताया जिन अभ्यर्थियों के प्रवेश-पत्र डाउनलोड नहीं हो रहे हैं, वे अपने कन्फर्मेशन पेज के साथ बोर्ड मुख्यालय, भिवानी के कमरा नं 28 में कार्यालय दिवस में प्रात: 09:00 बजे से सांय 04:30 बजे तक व्यक्तिगत रूप से सम्पर्क कर सकते हैं। प्रवेश पत्र डाउनलोड करने में यदि किसी अभ्यर्थी को तकनीकी कठिनाई उत्पन्न होती है तो हेल्पलाइन नम्बर 9358767113 व ई-मेल आई0डी0  helpdeskhtet2023@gmail.com  पर सम्पर्क कर सकते हैं।
उपायुक्त ने बताया कि बोर्ड की ओर से शनिवार 2 दिसंबर को लेवल-3 (पीजीटी) की परीक्षा का संचालन किया जाएगा, जिसका समय सायं कालीन सत्र में 3:00 से 5:30 बजे तक तथा रविवार 3 दिसंबर को लेवल-2 (टीजीटी) की परीक्षा प्रात: कालीन सत्र में 10:00 से 12:30 बजे तक एवं लेवल-1 (पीआरटी) की परीक्षा सायं कालीन सत्र में 3:00 से 5:30 बजे तक संचालित करवाई जाएगी। अभ्यर्थी को परीक्षा के दौरान परीक्षा केन्द्र छोडऩे की अनुमति नहीं होगी।
उपायुक्त ने बताया कि सभी अभ्यर्थी को प्रवेश पत्र (एडमिट कार्ड) का प्रिंट रंगीन फोटो के साथ लिया जाना अनिवार्य है। अभ्यर्थी को रंगीन प्रवेश पत्र के बिना, प्रवेश पत्र पर लगी फोटो के साथ छेडखानी करने की अवस्था में परीक्षा केन्द्र पर प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने बताया कि सभी अभ्यर्थी इस बात का विशेष ध्यान रखें की उन्हें प्रवेश पत्र की केंद्र प्रति व कैंडिडेट प्रति का एक-एक रंगीन प्रिंट आउट तथा पंजीकरण के समय अपलोड की गई रंगीन फोटो लगाकर राजपत्रित अधिकारी से सत्यापित करवाकर लेकर आना अनिवार्य है। अभ्यर्थी द्वारा आवेदन के समय पंजीकृत किए गए फोटो पहचान पत्र को मूल रूप में परीक्षा केन्द्र पर लेकर आना होगा। अभ्यर्थी द्वारा परीक्षा हेतु केवल ब्लैक बॉल पॉइंट पेन का प्रयोग किया जाना है। उन्होंने बताया कि अभ्यर्थी परीक्षा आरंभ होने से 2 घंटे 10 मिनट पूर्व परीक्षा केन्द्र पर पहुंचना सुनिश्चित करें, ताकि केन्द्र के मुख्य द्वार पर मेटल डिटेक्टर से तलाशी, बायोमेट्रिक, अंगूठे के निशान का डेटा कैप्चरिंग इत्यादि अनिवार्य औपचारिकताएं समय से पूरी हो सकें। परीक्षा आरम्भ होने से 1 घण्टा पहले परीक्षा केन्द्र पर अभ्यर्थी को प्रवेश करने की अनुमति नहीं होगी। अभ्यर्थी को किसी भी अवस्था में केन्द्र/विषय परिवर्तन की अनुमति नहीं होगी।
उपायुक्त ने बताया कि नेत्रहीन/अशक्त अभ्यर्थी जिनकी अशक्तता 40 प्रतिशत या इससे अधिक है, जो अपने हाथ से लिखने में असमर्थ हैं व लेखक की सुविधा लेना चाहते हैं तो ऐसे अभ्यर्थी को स्वयं लेखक के चयन की अनुमति दी जाती है अथवा उनके अनुरोध पर बोर्ड कार्यालय द्वारा प्रदान किया जा सकता है। ऐसे अभ्यर्थी परीक्षा तिथि से कम से कम 07 दिन पहले बोर्ड मुख्यालय में प्रात 09:00 बजे से 04:30 बजे तक कमरा नं 28 में समय रहते सम्पर्क सकते हैं। इसके अतिरिक्त अभ्यर्थी के अनुरोध पर लेखक की सुविधा केन्द्र अधीक्षक द्वारा भी दी जा सकती है। इसके लिए अभ्यर्थी कम से कम 2 दिन पहले दोपहर 1:00 बजे से सायं 4:00 बजे तक केन्द्र अधीक्षक से सम्पर्क करें। लेखक के लिए शैक्षिक योग्यता सीनियर सैकण्डरी से अधिक नहीं होनी चाहिए। इस सम्बन्ध में अभ्यर्थी बोर्ड की अधिकारिक वेबसाइट  www.bseh.org.in   पर उपलब्ध संबंधित प्रोफार्मा डाउनलोड कर सकते हैं। नेत्रहीन/अशक्त अभ्यर्थी (जो अपने हाथ से लिखने में असमर्थ है, चाहे वह लेखक की सुविधा ले रहा है अथवा नहीं) को 20 मिनट प्रति घण्टा के हिसाब से कुल 50 मिनट अतिरिक्त समय दिया जाएगा।
उपायुक्त ने बताया कि महिला अभ्यर्थियों को मंगलसूत्र पहनने, बिन्दी व सिंदूर लगाने की ही छूट होगी। सिख अभ्यर्थियों को धार्मिक आस्था के चिन्ह ले जाने की अनुमति होगी। उन्होंने बताया कि अन्य किसी प्रकार जैसे अंगूठी, चैन, बालियां, हार, लटकन, ब्रोच इत्यादि जैसे सभी गहने, किसी भी धातु की वस्तु, कोई इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जैसे मोबाइल फोन, पेजर, ब्लूटुथ, ईयरफोन, कैलकुलेटर, घड़ी, पर्स, लॉग टेबल, हेल्थ बैंड, प्लास्टिक पाउच, कोरा या मुद्रित कागज एवं लिखित चिट इत्यादि लेकर जाने की अनुमति नहीं है। उन्होंने आगे बताया कि बताया कि परीक्षा के दौरान असली अभ्यर्थी के स्थान पर नकली अभ्यर्थी पाए जाने पर अभ्यर्थी के विरूद्ध प्रतिरूपण का मामला दर्ज करते हुए नियमानुसार सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *