अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी और कुरुक्षेत्र में पुलिस की बर्बरता के खिलाफ आप का प्रदर्शन।

Spread the love
अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी और कुरुक्षेत्र में पुलिस की बर्बरता के खिलाफ आप का प्रदर्शन।
शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर पुलिस द्वारा बर्बरता पूर्ण कार्रवाई  लोकतंत्र के खिलाफ।
चुनाव से ठीक पहले अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करना भाजपा की तानाशाही –  सुखवीर मालिक।
आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सह सचिव सुखवीर सिंह मालिक के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी और कुरुक्षेत्र में शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर पुलिस की बर्बरता के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन प्रदेश सह सचिव सुखबीर सिंह मलिक के नेतृत्व में सभी कार्यकर्ताओं द्वारा हेलमेट पहनकर किया गया।
 इस दौरान आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने भाजपा सरकार की तानाशाही के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने कहा कि बीजेपी की तानाशाही का खात्मा आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल करेंगे।
उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा चुनाव से ठीक पहले अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करना भाजपा की तानाशाही है और भाजपा देश को तानाशाही शासन की ओर ले जा रही है। भाजपा अरविंद केजरीवाल से डरी हुई है। भाजपा की अरविंद केजरीवाल पर कार्रवाई केवल राजनीति से प्रेरित है। उन्होंने कहा पूरा हिंदुस्तान देख रहा है कि भाजपा देश में किस प्रकार लोकतंत्र का हनन कर रही है। भाजपा सरकार महंगाई, बेरोजगारी और बढ़ते अपराध पर बात न करके जनता का ध्यान भटकाना चाहती है। लेकिन अब प्रदेश और देश की जनता भाजपा की मंशा समझ चुकी है। जनता लोकसभा चुनाव में देश के संविधान और लोकतंत्र को बचाने के लिए वोट करेगी।
उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में जब आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता मुख्यमंत्री नायब सैनी के आवास का घेराव करने गए तो पुलिस ने शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर बर्बरतापूर्ण कार्रवाई की। जिसमें55 को गंभीर चोट कई सर फूटे,टांगे टूटी । जो देश के लोकतंत्र के लिए बेहद निंदनीय है। उन्होंने कहा कि पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई में आम आदमी पार्टी के 55 कार्यकर्ताओं को गंभीर चोटें आईं। जिनको कुरुक्षेत्र के सिविल अस्पताल में दाखिल करना पड़ा। पुलिस ने बीजेपी के इशारे पर कार्रवाई करते हुए कार्यकर्ताओं और नेताओं के के सिर पर जानलेवा वार किए, किसी का पैर तोड़ दिया तो किसी के हाथ में फ्रेक्चर कर दिया।
इसमें आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सुशील गुप्ता और वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष अनुराग ढांडा भी गंभीर रूप से घायल हो गए। आम आदमी पार्टी ने आचार संहिता लागू होने के बावजूद पुलिस की इस तरह की बर्बरतापूर्ण कार्रवाई की कड़ी निंदा की। उन्होंने कहा कि बीजेपी नेताओं के इशारे ये कार्रवाई की गई है।
इस मौके पर प्रदेश सहसचिव सुखबीर मलिक के अलावा
राकेश मुंजल राजकुमार मुंडे योगेश कौशिक होशियार सिंह निंबारिया प्यारेलाल गुप्ता महेंद्र मालसी सुरेश ग्वलाडा अजय शर्मा अनिल पांडे बाबूराम गोयल रेनू राना नीलम प्रणामी प्रितपाल खेड़ा वीरेंद्र आर्य इसराना मास्टर सतबीर अमित नोरा संजीव गोयल संतोष शर्मा मनीष दुबे उमेश कुमार अजय कुमार संजय नाथ महेंद्र शर्मा व भारी संख्या में महिला कार्यकर्ता व पदाधिकारी मुख्य रूप से विरोध प्रदर्शन में शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *