पिस्तौल से चाचा पर जानलेवा हमला करने के आरोपी को तिहाड़ जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई सीआईए टू पुलिस टीम

Spread the love
पिस्तौल से चाचा पर जानलेवा हमला करने के आरोपी को तिहाड़ जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई सीआईए टू पुलिस टीम
आरोपी के खिलाफ पहले भी आपराधिक वारदातों के 12 केस दर्ज है
सीआईए टू पुलिस की टीम नंगला पार गांव में स्कूल के पास युवक पर पिस्तौल से जानलेवा हमला करने के दूसरे आरोपी को तिहाड़ जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई। आरोपी की पहचान राजन निवासी नंगला पार के रूप में हुई।
सीआईए टू प्रभारी सब इंस्पेक्टर संदीप ने बताया कि गहनता से पूछताछ करने व असला सप्लायर के ठिकानों का पता लगा पकड़ने के लिए पुलिस ने मंगलवार को आरोपी राजन को माननीय न्यायालय में पेश किया जहा से उसे 3 दिन के पुलिस रिमांड पर हासिल किया।
सब इंस्पेक्टर संदीप ने बताया कि थाना सनौली में नंगला पार गांव निवासी आजाद पुत्र मांगेराम ने पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि वह 23 जून की देर शाम पानीपत से अपनी कार में सवार होकर घर जा रहा था। गांव में स्कूल के पास पहुंचने पर फोन चैक किया तो एक नंबर से काफी मिस कॉल आई हुई थी। उसने उक्त नंबर पर कॉल की तो युवक ने बताया वह राजन बोल रहा है। उसे जान से मारेगा। पीछे राजन की मां नरेश व पिता रामफल की भी आवाज आ रही थी। तभी राजन गांड़ी में साथियों के साथ आया और पिस्तौल से उसके उपर फायरिंग कर दी। एक गोली गाड़ी की डिग्गी को क्रास कर उसकी कमर में लगी। उसने गाड़ी भगा ली और फोन कर घर वालों को इसकी सूचना दी। आरोपी फायरिंग करते हुए जांन से मारने की धमकी देकर मौके से फरार हो गए। आजाद की शिकायत पर थाना सनौली में अभियोग दर्ज कर पुलिस ने आरोपियों की धरपकड़ के प्रसास शुरू कर दिए थे।
सब इंस्पेक्टर संदीप ने बताया की सीआईए टू पुलिस टीम ने 28 जून को आरोपी आसिफ अहमद निवासी शिव नगर हाल शास्त्री नगर को गोहाना रोड पर फ्लाई ओवर पुल के पास से काबू कर पूछताछ की तो आरोपी ने अपने दोस्त राजन के साथ मिलकर उक्त वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा था।
पूछताछ के बाद आरोपी आसिफ को माननीय न्यायालय में पेश कर जहा से उसे न्यायिक हिरासत जेल भेजने के बाद पुलिस ने आरोपी राजन की धरपकड़ के प्रयास शुरू कर दिए थे।
सब इंस्पेक्टर संदीप ने बताया कि आरोपी राजन गत दिनों दिल्ली में स्कॉर्पियों गाड़ी, 2 देसी पिस्तौल व 4 जिंदा रौंद सहित पकड़ा गया था। दिल्ली क्राइम ब्रांच पुलिस टीम ने आरोपी को माननीय न्यायालय में पेश कर जहा से उसे न्यायिक हिरासत तिहाड़ जेल भेज दिया था। सीआईए टू पुलिस टीम सूचना मिलने पर मंगलवार को आरोपी को तिहाड़ जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई। पूछताछ में आरोपी ने वारदात में पहले पकड़े जा चुके अपने साथी आरोपी आसिफ के साथ मिलकर अपने चाचा आजाद पर पिस्तौल से जानलेवा हमला करने की उक्त वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा।
सब इंस्पेक्टर संदीप ने बताया कि आरोपी राजन का पहले भी आपराधिक रिकार्ड होना पाया गया है। आरोपी के खिलाफ जानलेवा हमला, धोखाधड़ी व लूट की वारदातों के 12 अभियोग दर्ज है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *