अवैध देसी पिस्तौल व कारतूस सहित दो आरोपी गिरफतार

Spread the love
अवैध देसी पिस्तौल व कारतूस सहित दो आरोपी गिरफतार
थाना समालखा पुलिस टीम ने जुरासी भापरा बाईपास पर दो युवकों को अवैध एक देसी पिस्तौल व एक जिंदा रौंद सहित गिरफतार किया। आरोपियों की पहचान शुभम उर्फ सोनू निवासी पटटीकल्याणा व सन्नी उर्फ स्नेह निवासी भापरा के रूप में हुई।
थाना समालखा प्रभारी इंस्पेक्टर फुलकुमार ने बताया कि मंगलवार देर शाम थाना समालखा पुलिस की एक टीम गश्त के दौरान जुरासी बाइपास पर गांव भापरा के नजदीक पहुंची तो टीम को सामने से दो युवक पैदल आते हुए दिखाई दिए। दोनों युवक पुलिस की गांड़ी को आते देखकर एकदम से वापिस मुड़कर भागने का प्रयास करने लगे। पुलिस टीम ने शक के आधार पर दोनों युवकों को कुछ कदमों पर ही काबू कर पूछताछ की तो उन्होंने अपनी पहचान शुभम उर्फ सोनू पुत्र संजय निवासी पटटी कल्याणा व सन्नी उर्फ स्नेह पुत्र पारस निवासी भापरा के रूप में बताई।
तलाशी लेने पर आरोपी शुभम उर्फ सोनू की पेंट की जेब से एक देसी पिस्तौल 315 बौर व आरोपी सन्नी उर्फ सियार की पेंट की जेब से एक जिंदा रौंद बरामद हुआ। देसी पिस्तौल को खोलकर जांच की तो अनलोड मिला। पुलिस टीम ने आरोपी शुभम से पिस्तौल का लाईसेंस व परमिट दिखाने के लिए कहा तो आरोपी कोई भी कागजात पेश नही कर सका।
इंस्पेक्टर फुलकुमार ने बताया कि पूछताछ में आरोपी शुभम उर्फ सोने ने पुलिस को बताया की उसने उक्त देसी पिस्तौल व जिंदा रौदं गांव निवासी अपने दोस्त से खरीदा था। आरोपी शुभम मंगलवार को गांव भापरा में साथी आरोपी सन्नी उर्फ स्नेह के पास पहुंचा जहा उसने देसी पिस्तौल अपने पास रखकर जिंदा रौंद साथी आरोपी सन्नी उर्फ स्नेह को दे दिया।  देर शाम दोनों आरोपी देसी पिस्तौल व जिंदा रौंद को छुपाने के लिए जा रहे थे तभी पुलिस टीम ने दोनों को गिरफतार कर लिया।
पुलिस ने बरामद अवैध देसी पिस्तौल व जिंदा रौंद कब्जा पुलिस में लेकर आरोपियों के खिलाफ थाना समालखा में आर्म्स एक्ट के तहत अभियोग दर्ज कर बुधवार को दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जहा से उन्हें न्यायिक हिरासत जेल भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *